मुंबई:
भारत में दूसरे सबसे बड़े राष्ट्रीयकृत बैंक पंजाब नैशनल बैंक (PNB) में बुधवार को करीब 11400 करोड़ रुपये का घोटाला सामने आया है. खास बात यह है कि इस बैंक ने खुद इस घोटाले का खुलासा किया है. बता दें कि यह मुंबई स्थिति पीएनबी की शाखा से जुड़ा मामला बताया जा रहा है. यह घोटाला कथित रूप से हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने किया है. इस घोटाले में कई बड़ी आभूषण कंपनियां मसलन गीतांजलि, गिन्नी और नक्षत्र भी विभिन्न जांच एजेंसियों की जांच के दायरे में आ गई हैं. पंजाब नेशनल बैंक ने बुधवार की सुबह खुलासा किया कि उसने 1.77 अरब डालर (11,346 करोड़ रुपये) का धोखाधड़ी वाले लेनदेन पकड़ा है. इस मामले को वसूली के लिए विधि प्रवर्तन एजेंसियों को भेज दिया गया है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘चार बड़ी आभूषण कंपनियां गीतांजलि, गिन्नी, नक्षत्र और नीरव मोदी जांच के घेरे में हैं. सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय उनकी विभिन्न बैंकों से सांठगाठ और धन के अंतिम इस्तेमाल की जांच कर रहे हैं.’ इन कंपनियों से तत्काल प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई है.
यह भी पढ़ें -  अधिकारी ने कहा कि वित्त मंत्रालय से सख्त निर्देश है कि कोई बड़ी मछली बचने न पाए और ईमानदार करदाता को किसी तरह की परेशानी न हो. अधिकारी ने कहा कि बैंक अब अपनी प्रणाली और प्रक्रियाओं की जांच कर रहे हैं ताकि इस तरह का घोटाले की पुनरावृत्ति न हो. सभी बैंकों से जल्द से जल्द स्थिति रिपोर्ट देने को कहा गया है. वर्ष 2015 में बैंक आफ बड़ौदा में भी दिल्ली के दो कारोबारियों द्वारा 6,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया था. यह भी पढ़ें -  पीएनबी ने बयान में कहा कि उसकी मुंबई की एक शाखा में इस तरह के धोखाधड़ी के लेनदेन हुए जिसका फायदा कुछ चुनिंदा खाताधारकों को मिला है. ये लेनदेन मोदी के भाई निशाल, पत्नी एमी और मेहुल चिनूभाई चोकसी ने किए हैं जिनके आधार पर अन्य बैंकों ने विदेश में ग्राहकों को कर्ज दिया. मोदी के आभूषण दुनिया भर की हस्तियों में काफी लोकप्रिय हैं. उनके खिलाफ नए सिरे से सीबीआई जांच हो सकती है. जांच एजेंसी उचित कार्रवाई की तैयारी कर रही है. 
VIDEO : PNB निवेशकों के 3000 करोड़ डूबे, 11000 करोड़ के फ्रॉड का खुलासा(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)