वैलेंटाइन डे के मौके पर यहां साबरमती नदी के किनारे इकट्टा हुए युवा जोड़ो का कथित रूप से पीछा करने का प्रयास करने वाले विश्व हिन्दू परिषद (विहिप)  और उससे संबद्ध बजरंग दल के लगभग 10  कार्यकर्ताओं को आज हिरासत में लिया गया।

विहिप ने दावा किया है कि युवा जोड़ो को केवल मौके से जाने के लिए कहा गया था और उसके सदस्यों ने किसी पर भी हमला नहीं किया।

नदी किनारे विहिप कार्यकर्ताओं द्वारा कार्रवाई किये जाने के बारे में सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और युवाओं को धमकी देने वाले लोगों को हिरासत में लिया गया।

यहां जोन-1 पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उन्होंने मौके से लगभग 10  लोगों को हिरासत में लिया है।


साबरमती रिवरफ्रंट पुलिस थाने के निरीक्षक एस जे बलोच ने कहा, ''हमने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है और आज के दिन किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए मौके पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

राहगीरों द्वारा रिकार्ड की गई इस कथित घटना की कुछ वीडियो में कुछ लोग भगवा झंड़ों और डंडों के साथ युवा जोड़ो को वहां से चले जाने की धमकी देते हुए देखे जा सकते है।

विहिप की शहर इकाई ने कल कहा था कि वैलेंटाइन डे के खिलाफ नदी किनारे प्रदर्शन किया जायेगा। संगठन ने दावा किया है कि वैलेंटाइन डे ''भारतीय संस्कृति के खिलाफ है।

इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए उत्तर गुजरात के लिए विहिप के मीडिया समन्वयक हेमेन्द्र त्रिवेदी ने कहा, ''जैसा कि हम लोगों ने घोषणा की थी कि विहिप और बजरंग दल के सदस्य आज नदी किनारे प्रदर्शन करेंगे। हमने केवल जोड़ो को वहां से जाने के लिए कहा था। हमने किसी पर कोई हमला नहीं किया।

त्रिवेदी ने कहा, ''पुलिस ने हमारे कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। हम वैलेंटाइन डे समारोह के खिलाफ है क्योंकि यह भारतीय संस्कृति के खिलाफ है।